राजस्थान चुनाव:कांग्रेस ने भाजपा के लिए बजाई खतरे की घंटी, धौलपुर में दिया झटका

राजस्थान चुनाव 2018: वसुंधरा के ससुराल धौलपुर में भाजपा को झटका, रितेश शर्मा कांग्रेस में शामिल
राजस्थान चुनाव 2018: वसुंधरा के ससुराल धौलपुर में भाजपा को झटका, रितेश शर्मा कांग्रेस में शामिल

जयपुर: राजस्थान विधानसभा चुनाव का काउंट डाउन शुरू हो गया है। राजनीति दलों ने एक दूसरे को कमजोर करने के लिए रणनीति बना ली है। इस लिस्ट में दूसरों के दल को कमजोर करने के लिए दलबदल का दौरा जारी है। सभी दल विरोधी दलों को कमजोर करने के लिए पुराने साथियों को अपने खेमे में ला रहे हैं। इसी बीच कांग्रेस ने भाजपा को तगड़ा झटका दिया है।

Image result for रितेश शर्मा राजस्थान

चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस ने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को उनके ससुराल धौलपुर में घेरने के लिए बड़ा दाव खेला है। कांग्रेस ने भाजपा के पूर्व नगर परिषद चेयरमैन को कांग्रेस में शामिल कर लिया है। यह धौलपुर में भाजपा के लिए किसी सदमे से कम नहीं है। धौलपुर में नगर परिषद के पूर्व चेयरमैन रितेश शर्मा ने भाजपा छोड़ कांग्रेस का हाथ थाम लिया है।  प्रदेश कांग्रेस कमेटी के मुख्यालय में राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट की मौजूदगी में रितेश ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की। कांग्रेस का मानना है कि रितेश के कांग्रेस में शामिल होने से धौलपुर में कांग्रेस ना केवल मजबूत होगी बल्कि भाजपा के लिए खतरे की घंटी है। बता दें कि हाल ही में धौलपुर के जिला प्रमुख भाजपा में शामिल हो गए थे। इसके बाद सबकी निगाहें कांग्रेस को ओर थी वह क्या रणनीति अपनाएगी।

वहीं कांग्रेस का भाजपा में निशाना साधने का दौरा जारी है। चुनावी हवा को अपनी ओर करने के लिए कांग्रेस भाजपा की नामकामियों को लोगों के सामने ला रही है। सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा टीम एकजुट नई है जो दल खुद एक नहीं है वो जनता कैसे एकजुट रख सकता है। उन्होंने कहा कि जनता से जो वादे पिछले चुनावों में किए थे वो दोबारा किए जा रहे है। भाजपा को लोगों के पास पहुंचने से पहले पिछले साढे चार साल का हिसाबकिताब देना चाहिए।