आतंकियों को POK में घुसकर भारतीय वायुसेना से सिखाया सबक, लिया पुलवामा हमले का बदला

नई दिल्ली:पुलवामा हमले का बदला भारतीय वायुसेना ने मंगलवार को लिया। पीओके में घुसकर भारत ने जैश-ए-मोहम्मद के ठिकानों पर बम गिराए। भारत की इस कार्रवाई में करीब 300 आतंकवादियों के मारें जाने की खबर है। भारत की इस कार्रवाई के बाद पूरे पाकिस्तान में हलचल मच गई है।

इस कार्रवाई में अफगानिस्तान और कश्मीर में ऑपरेशन संचालक मौलाना अम्मार, मसूद अज़हर का भाई मौलाना तल्लाह सैफ, इब्राहिम अज़हर, कश्मीर में ऑपरेशन हेड मुफ्ती अज़हर खान कश्मीरी और मसूद अज़हर के रिश्तेदार को निशाना बनाया गया। खबर ये भी है कि भारत की इस कार्रवाई में जैश के 25 टॉप कमांडर मार गिराए गए हैें।

14 फरवरी को पुलवामा हमले के बाद पूरा देश बदले की आग में जल रहा था। इस हमले में भारत ने अपने 40 से ज्यादा सैनिक खो दिए थे।भारतीय वायुसेना ने जिम्मेदारी उठाते उस वक्त विरोधियों पर हमला किया जब पूरा देश सो रहा था। मंगलवार सुबह 3.30 बजे POK में घुसकर आतंकियों के अड्‌डे तबाह कर दिए हैं।

भारतीय वायुसेना ने LoC पार की और PoK में घुसकर जैश-ए-मोहम्मद के कई ठिकानों को नेस्तानाबूद कर दिया है। यब बमबारी बालाकोट, चकोटी और मुज्जफराबाद में  की गई है, जिसमें 12 मिराज लड़ाकू विमानों का इस्तेमाल किया गया। मिराज के ज़रिए 1 हज़ार किलो बम आतंकी अड्‌डों पर गिराए गए हैं। भारतीय वायुसेना ने केवल 21 मिनट में आतंकियों को मौत की नींद सुला दिया। इस कार्रवाई के बाद भारतीय वायुसेना ने  हाई अलर्ट पर कर दिया है ताकि पाकिस्तान की तरफ से किसी भी तरह के हमले का जवाब दिया जा सके।

भारत की तरफ से हुई कार्रवाई के बाद पाकिस्तान तिलमिला गया है। उसकी तरफ से बयान आ रहा है कि भारत ने सीमा उल्लंघन किया। इसके अलावा पाकिस्तान ने दावा किया है कि उसने भारतीय वायुसेना पर कार्रवाई की तो वो वहां से भाग निकले।

सुबह ठीक 11.30 हुई विदेश मंत्रालय की प्रेस कॉन्फ्रेंस को विदेश सचिव विजय गोखले ने संबोधित किया। जिसमें उन्होने भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई की पुष्टि की। उन्होने बताया कि जैश इस तरह के और आतंकी हमले की प्लानिंग में था इसकी जानकारी खुफिया विभाग से मिली थी जिसके चलते ये स्ट्राइक बेहद ज़रूरी थी।