जयपुर जेल में पाकिस्तानी कैदी की हत्या करने वालों के साथ हुआ ये

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद ही जयपुर की सैंट्रल जेल में बंद पाकिस्तानी कैदी की हत्या के मामले कोर्ट का फैसला आया है। पाकिस्तानी कैदी शकरुल्लाह की हत्या के मामले में 4 अन्य कैदियों को कोर्ट ने 12 मार्च तक के लिए फिर से जेल भेज दिया है। चारों कैदियों को पुलिस ने प्रोडक्शन वारंट पर ​भी लिया है।

जयपुर की सैंट्रल जेल से पाकिस्तानी कैदी की हत्या के मामले में पुलिस ने अजीत पावटा,मनोज प्रताप,भजनलाल मीणा और कुलविन्द्र नाम के आरोपियों को गिरफ्तार किया था। बुधवार को न्यायाधीश कमल सोनी कने अदालत ने चारों कैदियों को 12 मार्च तक जेल भेजने का फरमान सुनाया है। गौरतलब है कि आपसी कहासुनी के बाद जेल के 4 कैदियों ने 20 फरवरी को पाकिस्तानी कैदी शकरूल्लाह की हत्या कर दी थी।

लश्कर से संबंध के चलते जेल में बंद था शकररूल्लाह

पाकिस्तान की सियालकोट का रहने वाला 50 वर्षीय शकरूल्लाह को राजस्थान एटीएस ने साल 2011 में पंजाब से गिरफ्तार किया था। शकरुल्लाह पर आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से संबंध रखने का आरोप था। साल 2017 में जयपुर की एडीजे कोर्ट ने शकरूल्लाह को आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई थी। बता दें कि जयपुर की सैंट्रल जेल में शकरुल्लाह के अलावा पाकिस्तान के 5 और कैदी भी बंद थे।