अडानी ग्रूप का हुआ राजस्थान का सबसे बड़ा एयरपोर्ट

राजस्थान का सबसे बड़ा एयरपोर्ट अब अडानी निजी हाथों में जा सकता है। खबर है कि जयपुर का सांगानेर इंटरनेश्नल एयरपोर्ट को जल्द ही निजी हाथों में सौंपने की तैयारी की जा रही है। दिल्ली में सोमवार को एयरपोर्ट के रख रखाव और संचालन को लेकर एक नीलामी प्रक्रिया की गई। इस नीलामी में सबसे बड़ी बोली अडानी ग्रूप द्वारा लगाई गई। अब आने वाले 50 सालों तक अडानी ग्रुप ही इस एयरपोर्ट की जिम्मेदारी संभालेगा। हालांकि एयरपोर्ट को अडानी ग्रूप के हाथों में सौंपने से पहले कुछ औपचारिकताएं पूरी की जाएंगी जिसके बाद पूरा एयरपोर्ट अडानी ग्रूप के नाम हो जाएगा।

देश के 6 एयरपोर्ट का मालिक हुआ अडानी ग्रूप

नीलामी प्रक्रिया में ना सिर्फ देश के इस बड़े व्यावसायिक समूह ने जयपुर एयरपोर्ट को अपने नाम किया। जयपुर के अलावा भी ये ग्रूप अन्य पांच एयरपोर्ट की देखभाल करेगा जिसमें लखनउ,अहमदाबाद,त्रिवेंद्रम और मैंगलुरू शामिल है।

क्या होंगे फायदे

निजी हाथों में सौंपे जाने के बाद जयपुर समेत ये सभी एयरपोर्ट कंपनी के हिसाब से संचालित होंगे। संभावना है कि जयपुर जैसी एक छोटी मेट्रो सिटी की इंटरनेशनल कनेक्टिीविटी बढ़ सकती है और ये देश की लगभग सभी राज्यों से सीधे जुड़ सकता है। हालांकि निजी हाथों में आने के बाद एयरपोर्ट पर मिलने वाली सुविधाओं के महंगे होने का पूरा अंदेशा भी है।