‘सही’राम मीणा के नए काले कारनामों का हुआ खुलासा, बॉलीवुड तक थी पहुंच

0

राजस्थान में 26 जनवरी के दिन रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़े गए आईआरएस अधिकारी सहीराम मीणा को लेकर कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं।सूत्रों के अनुसार पता चला है कि मीणा की करोड़ों की गैरकानूनी संपत्ति होने के अलावा मीणा की पहुंच बॉलीवुड तक थी। बताया गया है कि मीणा 15 सालों तक मुंबई के कस्टम विभाग में कार्यरत था जिसके बाद उसकी पहचान बॉलीवुड के छोटे बड़े स्टार्स और ​हीरोईनों से होने लगी और वो कुछ लोगों का करीबी भी रहा है।

सहीराम को किताबें लिखने का भी काफी शौक था और इसने जीएसटी को लेकर भी एक किताब लिखी है जिसकी बाज़ार में कीमत करीब 1200 रूपए के करीब बताई जा रही है। एंटी करप्शन ब्यूरो ने सहीराम और दलाल कमलेश से पूछताछ कर उसकी काली कमाई को लेकर काफी सारे सबूत जुटा लिए हैं। दोनों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद उन्हें कोर्ट में पेश किया गया था जिसके बाद दोनों को जेल भेज दिया गया है।

गौरतलब है कि 26 जनवरी के दिन नारकोटिक्स डिपार्टमेंट में अधिकारी सहीराम मीणा को एसीबी ने 1 लाख रूपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। मीणा 26 जनवरी के मौके पर अपने डिपार्टमेंट के अन्य कर्मचारियों को ईमानदारी पर भाषण देने के बाद एक काश्तकार से रिश्वत लेने के लिए अपने घर लौटा था जहां से एसीबी ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

संपत्ति जानकर उड़ जाएंगे होश
घूसखोर अफसर सहीराम मीणा की काली कमाई पर से अब तक एसीबी ने जितना भी पर्दा उठाया है उसके अनुसार बाबा रामनिवास गौड़ गृह निर्माण सहकारी समिति लिमिटेड, जयपुर के नाम से उसके पास 23 भूखंड होने की जानकारी मिली है। मीणा ने अपनी पत्नी बेटे एवं बहू के नाम पर भी काफी कुछ बेहिसाब दौलत और प्रॉपर्टी जमा कर रखी थी उसकी पूरी लिस्ट नीचे दी गई है।

सहीराम की पत्नी प्रेमलता के नाम 42 भूखंड।
सहीराम के बेटे मनीष के नाम 23 भूखंड।
सहीराम के रिश्तेदारों के नाम से 12 भूखंड।
प्रेमलता के नाम 42 दुकानों के आवंटन पत्र।
वाटिका रोड पर प्रेम पैराडाइज के नाम से स्थित मैरिज गार्डन के दस्तावेज।
सवाई गैटोर आदिनाथ नगर स्थित प्लाट नंबर 52 व 53 के कागजात, ये कागजात आरोपी सहीराम की पत्नी व पुत्रवधू के नाम से हैं।
गोपालपुरा गृह निर्माण सहकारी समिति लि. से आरेापी की पत्नी प्रेमलता के नाम 4 भूखंड।
सहीराम की पत्नी के नाम भोज्यावाड़ा में 5 बीघा कृषि भूमि।
नई दिल्ली बसंत कुंज स्थित सेक्टर छह व सात में फ्लैट।
जयपुर के गणपति प्लाजा में दुकान।
पत्नी प्रेमलता व पुत्रवधू विजयलक्ष्मी के नाम से सीतापुरा इंडस्ट्रीज में दो भूखंड।
बेटे मनीष के नाम से मुंबई में एक फ्लैट
जयपुर के प्रताप नगर और कुमुद नगर में एक दुकान।
स्वामी विवेकानंद एजुकेशन सोसायटी का रजिस्ट्रेशन।
एक एसेंट, इनोवा, होंडा इमेज व लांसर कार और मोटरसाइकिल।
इसके अलावा सीतापुरा रीको ओद्यौगिक क्षेत्र में पुत्रवधु के नाम पेट्रोल पंप, वाटिका रोड पर पत्नी के नाम मैरिज गार्डन और कृषि भूमि, चाकसू में पांच बीघा कृषि भूमि, दिल्ली में दो फ्लैट, मुम्बई में एक फ्लैट, सिद्धार्थ नगर में आलीशान बंगले सहित अन्य सम्पति मिली है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here